Guru Nanak Dev ji Quotes, Anmol Vichar

550 guru nanak dev ji
550 guru nanak dev ji
इस वर्ष 2019 में हम गुरु नानक देव जी का 550 सालाना जन्म दिवस मना रहे है। गुरु नानक जी का जन्म लाहौर के निकट तलवंडी नामक स्थान पर सन 1469 में कार्तिक पूर्णिमा के दिन हुआ था।

550 guru nanak dev ji
सिख धर्म के पहले गुरु और संस्थापक श्री गुरु नानक देव जी का जन्म कार्तिक पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है इस दिन को प्रकाश पर्व के नाम से भी मनाया जाता है।
गुरु नानक देव जी के क्वोट्स, अनमोल वचन, अनमोल विचार जिन्हें हर व्यक्ति को अपने जीवन में धारण करना चाहिए।यदि व्यक्ति इन विचारों का अपने जीवन में पालन करता है तो उसका जीवन धन्य और सफल हो जाता है।
कार्तिक पूर्णिमा के दिन गुरुद्वारों में अनेक सांस्कृतिक,धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। सिख धर्म के अनुयाइयो के इलावा अन्य धर्मों के लोग भी इस दिन को बड़े धूमधाम से प्रकाश उत्सव और गुरु पर्व के रूप में मनाते है। गुरु नानक देव जी ने समाज को एकता में बाधने और जाति -पाती ख़त्म करने के लिए कई विचार व्यक्त किए थे
पेश है गुरु नानक देव जी के क्वोट्स, अनमोल विचार
550 गुरु नानक देव जी क्वोट्स 
(1)
“इक ओंकार यानी ईश्वर एक है और वह सभी जगह मौजूद है,
लेकिन उसके कई रूप है वो सभी का निर्माणकर्ता है और वो ख़ुद मनुष्य का रूप लेता है।”
(2)
 “लोभ का त्याग कर अपने हाथो से मेहनत करके ही धन कमाना चाहिए
कभी किसी का हक़ नहीं छीनना चाहिए।
गुरु नानक देव जी अनमोल वचन  
(3)
अहंकार को त्याग देना चाहिए यह इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन है। अहंकार मनुष्य को मनुष्य नहीं रहने देता इसलिए अहंकार का त्याग कर प्रेम और सेवाभाव से जीवन गुज़ारना चाहिए।
(4)
माया (धन) को केवल जेब में ही स्थान देना चाहिए अपने हृदय में नहीं।
पैसों से ज़्यादा लगाव नहीं रखना चाहिए।
गुरु नानक देव जी क्वोट्स 
(5)
अपनी कमाई का दसवंद (1/10) परोपकार के लिए एवं अपने समय का 1/10 प्रभु सिमरन अथवा ईश्वर के कार्यों के लिए लगाना चाहिए।
(6)
जहाँ क्षमा है वहाँ प्यार है जहाँ प्यार है वह रब है।
गुरु नानक देव जी दोहे 
(7)
चिंता मुक्त रहकर अपने कर्म करने चाहिए। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा है –
“नानक चिंता मत करो, चिंता तीसहि हे।
(8)
प्रेम और एकता के साथ जीवन बिताए केवल ऐसी वाणी बोलिए
जिससे आपको और दूसरों को सम्मान मिले।
(9)
जब मन अपवित्र हो जाता है तब ईश्वर नाम के प्रेम से वह स्वच्छ हो सकता है।
गुरु नानक देव जी अनमोल विचार 
(10)
ईश्वर एक है परंतु कई रूप है वही सभी का निर्माण करता है वही मनुष्य रूप में जन्म लेता है
हिंदू, मुस्लिम सिख या ईसाई बनने से पहले अच्छे इंसान बनिए।
(11)
मृत्यु को बुरा नहीं कहा जा सकता, अगर हमें पता हो की वास्तव में मरते कैसे है। 
हिंदी सुविचार
(12)
मैं जन्मा नहीं हूँ फिर कैसे मेरे लिए जन्म और मृत्यु हो सकते है
(13)
किसी व्यक्ति को भ्रम में नहीं जीना चाहिए, बिना गुरु के किसी को किनारा नहीं मिलता।
(14)
ना मैं बच्चा हूँ ना ही युवा, ना ही पुरातन और ना ही मेरी कोई जात है।
गुरु नानक देव जी अनमोल विचार 
(15)
 धनसमृद्धि से युक्त बड़े बड़े राज्यों के राजा महाराजों की तुलना भी उस चींटी से नहीं की जा सकती जिसमें ईश्वर का प्रेम भरा है।
(16)
यदि किसी को धन की अथवा कोई अन्य मदद चाहिये हो तो हमें कदापि पीछे नहीं हटना चाहिए।
(17) 
स्त्री जाति का हमेशा आदर करना चाहिए।उन्हें भी जीवन जीने का अधिकार मिलना चाहिए।
(18)
संसार को जीतने से पहले स्वयं अपने विकारों पर विजय पाना अतिअवश्क  है।
550 गुरु नानक देव जी क्वोट्स 
(19)
कर्म भूमि पर फल के लिए श्रम सबको करना पड़ता है रब सिर्फ़ लकीरें देता है रंग हमको भरना पड़ता है।
(20)
रब के संगीत में ऐसा जादू है जो इंसान की आत्मा को परम आत्मा से जोड़ देती है

और पढ़े : Anmol Vachan in hindi-बेस्ट अनमोल वचन हिंदी में
आत्मविश्वास : 21 उपाय जीवन में आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए


  • TAGS
  • 550 ANNIVERSARY OF GURU NANAK DEV JI
  • 550 GURU NANAK DEV JI
  • 550 GURU NANAK DEV JI BIRTHDAY
  • 550 GURU NANAK DEV JI QUOTES
  • 550 YEARS OF GURU NANAK DEV JI
  • GURU NANAK 550 BIRTHDAY 2019
  • GURU NANAK DEV JI ANMOL VACHAN
  • GURU NANAK DEV JI ANMOL VICHAR
  • GURU NANAK DEV JI HINDI QUOTES
  • GURU NANAK DEV JI QUOTES
  • GURU NANAK JAYANTI 2019